8085 मइक्रोप्रोसेसर के लिए manufacturing technology क्या है ? 8085 Microprocessor का आर्किटेक्चर और features

This image show the 8085 microprocessor pin diagram and IC

Microprocessor सर्किट मैन्युफैक्चरिंग के लिए PMOS, NMOS और CMOS टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया जाता है। 8085 मइक्रोप्रेसोर के manufacturing के लिए NMOS टेक्नोलॉजी का प्रयोग किया जाता है। NMOS का पूरा नाम है n -चैनल मेटल ऑक्साइड सेमीकंडक्टर फील्ड इफ़ेक्ट ट्रांजिस्टर है । 8085 माइक्रोप्रोसेसर में “5” अंक यह दर्शाता है की यह microprocessor 5 वोल्ट की सिंगल पॉवर सप्लाई के साथ काम करती है।

8085 माइक्रोप्रोसेसर के मुख्य फीचर्स:

  • 8 -बिट का डेटा बस होता है।
  • 16 -बिट का अड्रेस बस होता है -जिससे की ये माइक्रोप्रोसेसर 64 KB मेमोरी लोकेशन को अड्रेस कर सकता है।
  • इसका प्रोग्राम काउंटर 16 -बिट का होता है।
  • इसका एक 16 -बिट का स्टैक पॉइंटर होता है।
  • इसके पास 6 , 8 बिट के रजिस्टर जोड़ी में होते है।
  • 8085 माइक्रोप्रोसेसर 40 -pin का DIP (ड्यूल इन लाइन ) पैकेज में होता है।
  • इस माइक्रोप्रोसेसर का CPU क्लॉक रेट -3 ,5 और 6 MHz होता है।
  • 8085 microprocessor को इंटेल ने 1976 में बनाया।
  • इसमें डाटा O /P पिन सँख्या में 8 होते हैं।
  • यदि टोटल डाटा और अड्रेस O /P पिन की बात करे तो इनकी संख्या 16 होती है।

M K Mishra, 8 वी बोर्ड एग्जाम में मेरिट लिस्ट में आने के बाद 10 वी के एग्जाम में जिला में प्रथम स्थान प्राप्त किए। उसके बाद B-Tech, ECE में करने के बाद अलग-अलग संष्ठान में R&D ke कार्य में सरकारी संस्थान में लगें हुए हैं। कई सरकारी जॉब में इनका सिलेक्शन हुआ। पढ़ने और लिखने में रूचि होने के कारण इस ब्लॉग को स्टार्ट किया , जिस की हम अपने अनुभव दूसरे लोगों से शेयर कर सके और लोग हमारे अनुभव से लाभ ले सके। यदि आप भी अपने अनुभव से लोगो को गाईड करना चाहते हैं तो अपने लेख और सफलता की कहानी हमे भेजे । आप कभी भी हमसे बिना झिझक कांटेक्ट कीजिए- Envision.make@gmail.com दिप से दिप हम लोग मिलकर जलाएंगे ज्ञान-विज्ञान को अपना दोस्त बनाकर ज़िन्दगी का हर जंग हम लोग मुस्कुरा कर जीत जाएंगे। आपके मेल, सुझाव, विचार और लेख के इंतजार मे..............

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Post comment